Sunday, January 19, 2020

Rashtriya Udyan - राष्ट्रीय उद्यान Mp Gk

Rashtriya Udyan

राष्ट्रीय उद्यान

मध्यप्रदेश के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय उद्यान - Mp Rashtriya Udyan

1. मध्य प्रदेश में कितने राष्ट्रीय उद्यान है
उत्तर - मध्यप्रदेश में 11 राष्ट्रीय उद्यान जिसमें से 1 प्रस्तावित है।
2.मध्य प्रदेश का क्षेत्रफल कितने वर्ग किलोमीटर है?
उत्तर - 308,252 km²


मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय उद्यान एक नजर में - Madhya Pradesh GK
कान्हा किसली राष्ट्रीय उद्यान मंडला में है
जीवाश्म / फासिल राष्ट्रीय उद्यान डिंडोरी में है
पेंच राष्ट्रीय उद्यान छिंदवाड़ा - शिवनी में है
सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान होशंगाबाद में है
डायनासोर जीवाश्म राष्ट्रीय उद्यान धार में है
वन विहार राष्ट्रीय उद्यान भोपाल में है
माधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान शिवपुरी में है
पन्ना राष्ट्रीय उद्यान पन्ना - छतरपुर में है
संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान सीधी में है
बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान उमरिया मैं है
ओम्कारेश्वर राष्ट्रीय उद्यान उज्जैन में है ( प्रस्तावित है)

अब विस्तार से - मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय उद्यान - MPGK
कान्हा किसली राष्ट्रीय उद्यान - यह मध्य प्रदेश का सबसे पहला राष्ट्रीय उद्यान है। इसकी स्थापना सन 1955 में हुई थी एवं इसका क्षेत्रफल 940 वर्ग किलोमीटर है । यहां हालो और बंजर घाटी पाई जाती है । विश्व प्रोजेक्ट टाइगर के जन्मदाता गेनी मैनफोर्ड है । इस उद्यान में चीतल, बारहसिंगा, हिरण, साम्भर, गौर, भालू, बाघ, तेंदुआ आदि पाए जाते है।
इस उद्यान में बारहसिंगाओ की मात्रा बहुत अधिक है।

जीवाश्म /फसिल राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना 1968 में हुई थी और यह मध्यप्रदेश में डिंडोरी जिलें में स्थित है। भारत का यह सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान है । इसका क्षेत्रफल 0. 27 वर्ग किलोमीटर है।

पेंच राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना 1980 में हुई थी इसका क्षेत्रफल 293 वर्ग किलोमीटर है । इसकी स्थापना मध्य प्रदेश के सिवनी - छिंदवाड़ा तथा महाराष्ट्र के नागपुर जिलों के भागों को मिलाकर की गई है । मोगली लैंड यहीं पर बनाया जा रहा है और यह राष्ट्रीय उद्यान विश्व बैंक की 7 अभ्यारण संरक्षण योजना में शामिल है।



सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना सन 1983 में की गई थी और इसका क्षेत्रफल 525 वर्ग किलोमीटर है । इस उद्यान में बाघ,तेंदुआ,साम्भर,गौर,चीतल तथा कृष्ण मृगों की संख्या बहुत अधिक है ।

वन विहार राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना 1979 को भोपाल में की गई थी । इसका क्षेत्रफल 4.45 वर्ग किलोमीटर है । यह मध्य प्रदेश का एकमात्र सर्प उद्यान है जो कि भोपाल में है।

माधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना सन 1958 में शिवपुरी जिलें में हुई थी । इसका क्षेत्रफल 337 वर्ग किलोमीटर है । और इसकी एक खास पहचान माधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान के बीच से निकला एक नेशनल पार्क है और इसमें जॉर्ज कैसल नामक प्रसिद्ध भवन है । इस उद्यान में बाघ, तेंदुआ, चीतल, बारहसिंगा, साम्भर, लकड़बग्घा, चौसिंगा आदि जानवर पाए  जाते है।

पन्ना राष्ट्रीय उद्यान- इसकी स्थापना 1981 में हुई थी एवं इसका क्षेत्रफल 543 वर्ग किलोमीटर है । प्रदेश का एकमात्र रेप्टाइल पार्क पन्ना राष्ट्रीय उद्यान में पाया जाता है । वर्ष 1994 में इसे प्रोजेक्ट टाइगर में शामिल किया गया था ।

संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना सन 1983 में हुई थी एवं इसका क्षेत्रफल 466 वर्ग किलोमीटर है। इसे भी प्रोजेक्ट टाइगर में शामिल कर लिया गया है। इसे वर्ष 1983 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था।



बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान - इसकी स्थापना सन 1968 में उमरिया जिले में की गई थी एवं इसका क्षेत्रफल  437 वर्ग किलोमीटर है । यह 32 पहाड़ियों से घिरा हुआ राष्ट्रीय उद्यान है । यहां सफेद शेर पाए जाते हैं । इसे 1993 में प्रोजेक्ट टाइगर में सम्मिलित किया गया था । इस उद्यान में बाघ,तेंदुआ,गौर,नील गाय,चिंकारा,चीता पाए जाते है । 

ओम कालेश्वर राष्ट्रीय उद्यान - यह अभी प्रस्तावित है
विडियो देखें कभी नहीं भूलेगा 


1 comment:
Write comment