Chandrayaan 2 

Chandrayaan 2

चन्द्रयान 2 के 40 + महत्वपूर्ण परीक्षा उपयोगी प्रश्न   



1  चंद्रयान मिशन 2 को कब लांच किया गया?
 उत्तर-  22 जुलाई 2019

2 Chandrayaan-2 अभियान को भारत के किस शक्तिशाली रॉकेट से लांच किया गया?
 उत्तर –GSLV  मार्क 3

3 भारत की कौन सी संस्था  ने चंद्रयान मिशन 2 को लॉन्च किया?
 उत्तर-  ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन)

4   चंद्रयान-2   को किस अंतरिक्ष केंद्र से लांच किया गया?
 उत्तर-  सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र

5  चंद्रयान मिशन 2 को लॉन्च करने में कितना खर्च आया?
 उत्तर- 960  करोड़ रुपए

6 ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) का मुख्यालय कहां पर स्थित है?
 उत्तर-  बेंगलुरु

7   चंद्रयान-2  को कहां पर उतरना है?
 उत्तर-  चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर

8  चंद्रयान-2 अभियान को कहां से लांच किया गया?
 उत्तर-  श्रीहरिकोटा

9 सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र कहां पर स्थित है?
 उत्तर- Andhra Pradesh 

10 भारत का अंतरिक्ष मंत्रालय किसके पास है?
 उत्तर-  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी



11  चंद्रयान मिशन 2 के प्रोजेक्ट डायरेक्टर कौन है?
 उत्तर-  एम वनीता और रितु करीधल

12  वर्तमान में ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन)  के अध्यक्ष कौन है?
 उत्तर- के सिवन (2019)

13 चंद्रयान-2 को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने में कितने दिन का समय  लगेगा?
 उत्तर- 53 से 54  दिन

14 चंद्रयान-2  अभियान भारत का चंद्रमा के लिए कौन सा मिशन होगा?
 उत्तर-  दूसरा

15  चंद्रयान मिशन 1  कब लांच किया गया था?
 उत्तर-  22 अक्टूबर 2008

16 चंद्रयान-2 को कहां से लांच किया गया था?
 उत्तर-  सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र ( श्रीहरिकोटा)

17 चंद्रयान मिशन 1  को लांच करने में कितना खर्चा आया था?
 उत्तर- 380  करोड़ रुपए

18  चंद्रयान मिशन 1 के समय इसरो के अध्यक्ष कौन थे?
 उत्तर-  जी माधवन नायर

19  चंद्रयान-2  को किस रॉकेट के जरिए लॉन्च किया गया था?
 उत्तर- PSLV-C11

20  चंद्रयान चंद्रमा पर कब पहुंचा था?
 उत्तर-  22 अक्टूबर 2008 को

21  चंद्रयान-2 की सफल सेंडिंग के साथ भारत चंद्रमा की सत्तह पर पहुंचने वाला दुनिया का कौन सा देश बन जाएगा?
 उत्तर-  चौथा

22  चंद्रयान 2 के तीन मत्वपूर्ण हिस्से कौन से हैं?
 उत्तर-  ऑर्बिटर, लैंडिंग  एवं रोवर

23  चंद्रयान मिशन 2 लैनडर का क्या नाम रखा गया है?
उत्तर-  विक्रम



24  चंद्रयान-2 का हिस्सा ऑर्बिटल क्या कार्य करेगा?
 उत्तर-  चंद्रमा के चारों ओर चक्कर लगाएगा

25 चंद्रयान-2 का हिस्सा लैनडर क्या कार्य करेगा?
 उत्तर-  चंद्रमा की सतह पर उतरेगा

26  चंद्रयान-2 का हिस्सा रोवर क्या कार्य करेगा?
 उत्तर-  चंद्रमा की सतह पर उतरेगा और चलेगा

27  किस देश का चंद्रयान मिशन बेरेशीट असफल हो गया था?
 उत्तर-  इजराइल

28 चंद्रयान मिशन बेरेशीट को कब लॉन्च किया गया था?
 उत्तर-  22 फरवरी को

29  पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की दूरी कितनी है?
 उत्तर- 384,400 km

30  चंद्रमा से परावर्तित रोशनी पृथ्वी तक कितने समय में पहुंचती हैं?
 उत्तर- 1.30  सेकंड

31  चंद्रमा का गुरुत्वाकर्षण पृथ्वी की अपेक्षा कितना है?
 उत्तर- 1\6

32  पृथ्वी की सतह से चांद का कितने प्रतिशत भाग दिखाई देता है?
 उत्तर-  59%

33  चंद्रमा का व्यास कितना होता है?
 उत्तर- 3,474.2 किमी

34 चंद्रमा के वर्णन की विद्या को क्या कहा जाता है?
 उत्तर- सेलेनोलॉजी (Selenology)

35  चांद पर कदम रखने वाला प्रथम इंसान नील आर्मस्ट्रांग किस अंतरिक्ष यान से चंद्रमा पर उतरे थे?
 उत्तर-  अपोलो 11

36 नील आर्मस्ट्रांग ने चांद पर कदम कब रखा था?
 उत्तर-   20 जुलाई 1969

37  किसे जीवाश्म ग्रह के नाम से  भी जाना जाता है?
उत्तर-  चंद्रमा

38  चंद्रयान-2 का वजन कितना है? 
 उत्तर- 3877 किलोग्राम



39 चांद के दक्षिणी ध्रुव  पर उतरने वाला दुनिया का पहला देश कौन  बना है?
 उत्तर-  भारत

40 आर्बिटल का क्या काम है? 
 उत्तर-  मुख्य उद्देश्य पृथ्वी और लैंडर के बीच कम्युनिकेशन करना

41 ISRO के वर्तमान चेयरमैन का क्या नाम है ?
उत्तर - के सिवान 

42. भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन के अध्यक्ष कौन है ?
उत्तर - ए एस किरण कुमार ( 14 जनवरी 2015 को इसरो के अध्यक्ष का पदभार ग्रहण किया)

43. इसरों के पहले चेयरमैन कौन थे ?
उत्तर - डॉक्टर विक्रम साराभाई 


इसरो के चेयरमैन की सूची - 

इसरो के चेयरमैन की सूची

इसरो के चेयरमैन के बारे में तथ्य -

1. डॉक्टर विक्रम साराभाई ( 1963 - 1972 तक ) डॉक्टर विक्रम साराभाई को भारतीय अन्तरिक्ष कार्यक्रम का पिता माना जाता है । विक्रम साराभाई ने इन संस्थानों की स्थापना की थी ।

1. भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला ( PRL) , अहमदाबाद ।
2. भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) , अहमदाबाद
३. विक्रम साराभाई के अन्तरिक्ष केंद्र, तिरुवनंतपुरम
4. फास्ट ब्रीडर टेस्ट रिएक्टर (FBTR) , कलपक्कम

2. प्रो. सतीश धवन  ( 1972 - 1984)
1. इन्हे भारतीय रॉकेट विज्ञान का जनक माना जाता है।
2.  प्रो॰ सतीश धवन  को भारतीय संचार उपग्रह (INSAT) और ध्रुवीय उपग्रह लॉंच वाहन (PSLV) के परिचालन को सुगम बनाने के लिए हमेशा याद किया जाता है।

3. प्रो. उड्डपी रामचन्द्र राव ( 1984 - 1994)
1. प्रो॰ राव ने 1942 मे भारत में उपग्रह प्रोद्योगिकी स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी ।
2. प्रो॰ राव ने भारत के पहले उपग्रह 'आर्यभट्ट' को डिजाइन करने में मुख्य भूमिका निभाई थी ।

4. डॉक्टर कृष्णस्वामी क्स्तूरीरंगन ( 1994 - 2003)
1. इसरो के अध्यक्ष के रूप में, डॉक्टर कृष्णस्वामी क्स्तूरीरंगन ने पीएसएलवी और जीएसएलवी की मदद से भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम में मील के पत्थर गाड़े थे।
2. वे भारत के प्रथम दो प्रोद्योगिक भू - प्रेक्षण उपग्रह,भास्कर - | व भास्कर - || के परियोजना निदेशक भी थे ।

5. श्री G॰ माधवन नायर ( 2003 - 2009)
1. माधवन नायर के रहते ही भारत का चंद्रयान - 1 चाँद पर भेजा गया था ।
2. इनके 6 साल के चेयरमैन और इसरो सेक्रेटरी के कार्यकाल के दौरान इसरो ने 25 मिशनों को सफलतापूर्वक पूरा किया था।

6. डॉक्टर के॰ राधाकृष्ण ( 2009 - 2014)
डॉक्टर के॰ राधाकृष्ण के चेयरमैन रहने के दौरान ही भारत का पहला इंटरप्लानेटरी मिशन "मंगलयान"भेजा गया था।

7. श्री एएस किरण कुमार ( 2015 - 2018)
1. इन्होने भारत के चंद्रयान - 1 और मंगलयान मिशन को सफलता पूर्वक भेजने मे अहम भूमिका निभाई थी।
2. भारतीय राष्ट्रीय क्षेत्रीय नेविगेशन प्रणाली (IRNSS) और जीपीएस स्डेड जियो नेविगेशन (GAGAN) का विकास भी इनकी देखरेख में किया गया था।



Click here to Download PDF
Click here to Download PDF


Post a Comment

नया पेज पुराने